EMI का फुल फॉर्म क्या है? जानिए ईएमआई के बारे में जरूरी बातें

EMI Full Form in Hindi : हर किसी का कोई ना कोई जीवन में एक सपना जरूर होता है जैसे किसी का नया घर लेने का सपना, तो किसी का कार लेने का सपना आदि। आज के समय में ऐसा कोई भी सपना नहीं है जिसे आप पूरा नहीं कर सकते है क्योकि आज आपको इतने सारे बैंक मिल जायेंगे जिनसे आप आसानी से लोन ले सकते है और अपने सपने को पूरा कर सकते है। आज आपको बैंक की तरफ से सभी तरह के लोन देखने को मिल जायेंगे जैसे घर लेने के लिए, कार के लिए, शादी के लिए, हेल्थ के लिए आदि। आपको बता दे जब हम किसी बैंक से कोई लोन लेते हैं तो बैंक के पैसे हमें हर महीने किस्तों में चुकाना पड़ते है इसे को ही ईएमआई कहते है।

दोस्तों आप सभी ने बैंक से लोन जरूर लिया होगा और बैंक की ईएमआई भी जरूर भरी होगी लेकिन क्या आप ईएमआई के फुल फॉर्म के बारे जानते है की ईएमआई का फुल फॉर्म क्या होता है? अगर नहीं तो आज हम आपको एमी फुल फॉर्म इन हिंदी के बारे में सारी जानकारी देने जा रहे है जैसे ईएमआई (what is emi) क्या है? ईएमआई का फुल फॉर्म क्या है? आदि। तो चालिए जानते है EMI Full Form in Hindi के बारे में?

EMI Full Form in Hindi

EMI का फुल फॉर्म “Equated Monthly Installment” होता है। हिंदी में इसको समान मासिक किस्त कहते है।

Emi Full Form in Banking

E – Equated

M – Monthly

I – Installment

जब हम बैंक से लोन लेते है तो लोन की राशि हमें ब्याज दर और लोन की अवधि के आधार पर बैंक की ईएमआई भरनी पड़ती है।

Emi Meaning in Hindi

ईएमआई का हिंदी में मतलब समान मासिक किस्त होता है।

ईएमआई क्या है? (emi kya hai)

जब हम किसी काम के लिए बैंक से लोन लेते है तो हमें बैंक के पैसे किस्तों में देना पड़ते है इसे को ही ईएमआई कहते है। आपको बता दे लोन की राशि हमें ब्याज दर और लोन की अवधि के आधार पर बैंक की हमें ईएमआई  देनी पड़ती है। इसी प्रकार जब हम किसी डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड के जरिए लोन लेते है तो भी हमें ईएमआई भरनी पड़ती है। आज समय में ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट जैसे Flipkart, Amazon, Snapdeal आदि भी अपना सामान ईएमआई के जरिए बेचती है।

ईएमआई कैसे कैलकुलेट की जाती है?

सभी बैंक ईएमआई कैलकुलेट आपके द्वारा लिया गया लोन, लोना का ब्याज दर और लोन का समय इसके हिसाब से ईएमआई कैलकुलेट की जाती है?

लोन राशि : लोन ली गई राशि

ब्याज दर : बैंक द्वारा लिया जाने वाला ब्याज दर

लोन की अवधि : लोन चुकाने का समय

ईएमआई का भुगतान कैसे करे?

ईएमआई जमा करने के लिए आपके पास दो तरिके है पहला तरीका आप ऑनलाइन बैंक की वेबसाइट पर जाकर ईएमआई जमा कर सकते है या बैंक के ऐप से भी आप ईएमआई जमा कर सकते है और दूसरा तरीका आप बैंक जाकर ईएमआई जमा कर सकते है।

EMI के फायदे? (advantages of emi)

  • ईएमआई के जाइए आप अपना घर, गाड़ी आदि खरीद सकते है।
  • ईएमआई में आपको हर महीने किस्त देनी पड़ती है आपको एक साथ पैसे नहीं देने पड़ते।
  • EMI से आप अपना क्रेडिट स्कोर बढ़ा सकते हैं।

ईएमआई के नुकसान?

  • ईएमआई में आपको बैंक से लिए गए लोन से ज्यादा पैसे भरने पड़ते है।
  • ईएमआई में आपको हर महीने किस्त भरने की टेंशन रहती है।
  • ईएमआई समय से ना देने पर आपको जुर्माना भरना पड़ता है।

अब आपको इस आर्टिकल में EMI Full Form in Hindi के बारे में जानकारी मिल गई होगी। ईएमआई के जरिए आप बैंक से लोन लेकर अपना काम कर सकते है और ईएमआई के जरिए लोन किस्तों में भर सकते है। दोस्तों अगर आपको हमारा आर्टिकल ईएमआई (emi ka full form in hindi) का फुल फॉर्म क्या है? पसंद आया हो तो इसे अपने सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे।

ये भी पढ़े –

Previous articleउत्तराखंड में कितने जिले हैं 2024 में?
Next articleदुनिया की 10 सबसे महंगी करेंसी कौनसी है 2024 में?
My name is Aditi Jain. I am a content writer and love to spend time on the internet. I write content in the Hindi language, I like to write content on the General Knowledge.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here