ISO का फुल फॉर्म क्या है? पूरी जानकारी हिंदी में

ISO Full Form

आज आप इस आर्टिकल में जानेंगे कि ISO Full Form क्या है? ISO एक अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन है। यह कंपनी की पूरी तरह से जांच करता है जैसे Product की Quality, समाधान, शुद्धता और Company के Management System की अगर सब कुछ ठीक रहता है तो यह संगठन Company को ISO Certification देता है। आपको बता दे ISO Certification किसी भी Company की Quality को बताता है। ये ISO Certification आज Company, Restaurant, Café आदि को दिया जाता है। आज हम आपको ISO के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे है जैसे आईएसओ (iso kya hai) क्या है? आईएसओ फुल फॉर्म (full form of iso) क्या है? आइए जानते हैं कि ISO Full Form क्या है?

What Is ISO Certification In Hindi

ISO एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है। ISO Certification एक ऐसा Certificate होता है जो की किसी कंपनी को उसके Quality Standard के लिए दिया जाता है। आपको बता दे ISO की स्थापना 23 फरवरी 1949 में स्विट्जरलैंड में हुई थी। इसमें 150 से ज्यादा देश शामिल है। ISO का कार्य कोई भी कंपनी या संस्था जो प्रोडक्ट बेचती है उसकी क्वालिटी, शुद्धता की जाँच करना है जिससे प्रोडक्ट की क्वालिटी का पता लगाया जा सके। अगर कंपनी का प्रोडक्ट ठीक है तो उसके बाद ISO द्वारा उस कंपनी को ISO Certificate दिया जाता है, ताकि वह अपने प्रोडक्ट को बाजार में आसानी से बेच सके।

ISO Full Form

ISO का फुल फॉर्म International Organization for Standardization होता है और हिंदी में इसे अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन कहते है।

Types of ISO Certification

  • ISO 9001 2008- Quality Management
  • ISO 9001:2015 – Quality Management Systems
  • ISO 14001:2015 – Environmental Management Systems
  • ISO 22000:2005 – Food Safety Management Systems
  • ISO 27001:2013 – Information Security Management System etc.
  • ISO 20000-1 – IT Service Management System
  • ISO 50001 – Energy Management
  • ISO 29990 – Learning Services for Non-formal Education & Training
  • ISO 10012:- Measure Management System

ISO के फायदे (Benefits of ISO In Hindi)

  • ISO एक अंतरराष्ट्रीय  मान्यता प्राप्त Quality Standards Certificate है।
  • ISO का  उदेश्य संगठनों को अपने ग्राहकों की बेहतर सेवा प्रदान करना है।
  • ISO  व्यवसाय या उद्योग में आने वाले अवरोधों को कम करने में मदद करती है।
  • ISO उद्योग या व्यवसाय में शुद्धता और बढ़ोत्तरी मिलने में बहुत महत्वपूर्ण है।
  • ISO सर्टिफिकेट से आपके वस्तुओ को शुद्धता प्रमाण मिलता है।

ISO का इतिहास (ISO History)

ISO एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है। ISO की स्थापना 23 फरवरी 1949 में स्विट्जरलैंड में हुई थी। इसमें 165 से ज्यादा देश शामिल है। ISO की पहली बैठक लंडन में 14 अक्टूबर 1946 में हुई थी। ISO Certification एक ऐसा Certificate होता है जो की किसी कंपनी को उसके Quality के लिए दिया जाता है।

अब आप जान गए होंगे कि ISO का फुल फॉर्म क्या है? आईएसओ क्या है? आईएसओ फुल फॉर्म (iso certification full form) क्या है? इसकी जानकारी दी है। उम्मीद है की आपको इस आर्टिकल में ISO Certified Full Form की सारी जानकारी मिल गई होगी।

ये भी पढ़े –

Previous articleसंस्कृत में लड़कियों के नाम | Baby Girl Names in Sanskrit
Next articleRTA Full Form | RTA क्या होता है पूरी जानकारी हिंदी में?
My name is Aditi Jain. I am a content writer and love to spend time on the internet. I write content in the Hindi language, I like to write content on the General Knowledge.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here