GST Full Form क्या है?

आइये जानते है GST Full Form in Hindi क्या है? आप सभी ने खरीदारी करते समय GST Tax जरूर दिया होगा बता दे भारत सरकार ने GST सभी जगह लागू कर दिया है। भारत में GST 1 जुलाई 2017 से लागू किया गया है। सरकार द्वारा पहले अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग टेक्स जैसे सेल टेक्स, सर्विस टेक्स, वैट, परचेस टेक्स आदि चुकाना पड़ते थे। लेकिन सरकार ने इन सभी टेक्सो को हटाकर GST लागु कर दिया गया है। जो सभी से एक सामान वसूला जाता है।

आप सभी ने GST Tax जरूर दिया होगा पर आप में से बहुत से लोगों को GST का फुल फॉर्म क्या है? इसकी जानकरी नहीं होती है  आज हम आपको GST फुल फॉर्म क्या है? GST के प्रकार क्या है? GST के फायदे क्या है? टैक्स फ्री वस्तुएं क्या है? इसकी जानकारी देने जा रहे। आइये जानते है GST Full Form in Hindi क्या है?

GST Full Form in Hindi

GST Full Form क्या है? (what is the full form of gst)

GST का फुल फॉर्म Goods And Service Tax होता है और हिंदी में इसे (full form of gst) गुड्स एंड सर्विस टैक्स कहा जाता है। GST एक प्रकार का टेक्स है। जिसे राज्य और केंद्र सरकार द्वारा वसूल किया जाता है। GST सभी प्रकार की वस्तुओ और सेवाओं की बिक्री पर वसूल किया जाता है। टेक्स Direct और Indirect दो प्रकार के होते है। Direct Tax हमेशा व्यक्ति की Salary या House Rent पर वसूल किया जाता है। Indirect Tax वस्तुओ और सेवाओं की बिक्री पर वसूल किया जाता है। सरकार ने GST लागू करके सभी पुराने टेक्सो को हटा दिया है। GST का भुगतान उपभोक्ता द्वारा किया जाता है।

GST के प्रकार

GST अलग-अलग प्रकार के होते है। आप सभी GST के प्रकार नीचे देख सकते है।

1. CGST (cgst full form)

CGST का फुल फॉर्म Central Goods And Services Tax होता है। केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर अधिनियम का निर्माण 2016 में किया गया। CGST वो टैक्स है जो केंद्र सरकार के पास जमा होता है। CGST टैक्स पर निंयत्रण भी केंद्र सरकार का होता है।

2. SGST

SGST काफुलफॉर्म State Goods And Services Tax होता है। जिसे हिंदी में राज्य माल एवं सेवा कर कहा जाता है।

3. IGST

IGST काफुलफॉर्म Integrated Goods And Services Tax  होता है। और हिंदी में एकीकृत सेवा एवं माल कर कहा जाता है। IGST कर एक राज्य से दूसरे राज्य में वस्तु को ले जाने में लगाया जाता है।

4. UTGST

UTGST का फुल फॉर्म Union Territory Goods And Services Tax होता है। GST अधिनियम 2016 के अनुसार केंद्र शासित प्रदेश माल और सेवा कर के नाम से जाना जाता है।

GST के फायदे (Benefits Of GST)

  • GST का सबसे ज़्यदा फायदा सामान्य वर्ग के लोगो को हुआ है क्युकी GST के अंतर्गत सभी सामानो की खरीदी पर एक सामान कर वसूल किया जाता है।
  • GST लागू होने के बाद income tax डिपार्टमेंट के कर्मचारी किसी भी प्रकार की गड़बड़ी नहीं कर सकते है।
  • GST लागू होने के बाद कई सारे indirect टैक्स जैसे राज्य बिक्री कर, सेवा कर, केंद्रीय बिक्री कर,वैट जैसे करो से मुक्ति मिल गई है।
  • GST लागू होने से पहले हमे अलग-अलग सामान पर 30% से 35% टैक्स वसूल किया जाता था लेकिन GST लागू होने के बाद केवल 18%Tax चुकाना पड़ता है।

टैक्स फ्री वस्तुएं

GST के अंतर्गत कुछ ऐसी वस्तुए भी आती है। जिन पर GST लागू नहीं होता है हम आपको कुछ टैक्स फ्री वस्तुओ के नाम बताने जा रहे है। इन नामो को आप नीचे देख सकते है।

चूड़िया, हैंडलूम, अनाज, काजल और बच्चो की ड्राइंग कलर बुक, बिंदी, सिंदूर, स्टाम्प पेपर, प्रिंटिड बुक्स, अखबार, ताज़ा फल,सब्जियां, आटा, बेसन, ब्रेड, प्रसाद, नमक, जूट, ताजा मीट, मछली, चिकन, अंडा, दूध, दही, छाछ, प्राकृतिक शहद आदि है जो GST के अंतर्गत नहीं आते है अर्थात ये टैक्स फ्री वस्तुए है।

GST टैक्स स्लैब

जीएसटी परिषद ने सभी वस्तुओ और सेवाओं को चार टैक्स स्लैब में बाटा गया है। जो इस प्रकार है

Name Of GoodsBefore Tax  GST Tax
समुद्री ईंधन18%5%
सूखी हुई इमली5%0%
रेलवे की वैगनों और डिब्बों की आपूर्ति पर (ITC के बिना)5%12%
बाहरी खान-पान (ITC के बिना)18%5%
डायमंड जॉब के कार्य पर5%1.50%
अन्य जॉब कार्यों पर18%12%
होटल (7,501 रुपए या उससे अधिक वाले कमरों पर शुल्क पर)28%18%
होटल (रूम टैरिफ 1,001 रुपये से 7,500 रुपये तक)18%12%
बुना या गैर-बुना पॉलीथीन पैकेजिंग बैग18%12%
फूल, पत्तियों और पेड़ की छाल से बने प्लेट्स और कप5% 0%
बादाम का दूध0%18%
स्लाइड फास्टनर्स18%12%
वेट ग्राइंडर या गीली चक्की (पत्थर के रूप में)12%5%
कैफीनयुक्त पेय पदार्थ18%28%+12% सेस
काटकर पॉलिश किया गए अर्द्ध कीमती पत्थर3%0.25%
हाइड्रो-कार्बन अन्वेषण लाइसेंसिंग नीति के अंतर्गत पेट्रोलियम संचालन के लिए सामानलागू दर5%
10-13 यात्रियों की क्षमता वाले पेट्रोल मोटर वाहनों पर उप कर15%1%
10-13 यात्रियों की क्षमता वाले डीजल मोटर वाहनों पर उप कर15%3%

तो अब आप जान गए होंगे कि GST Full Form in Hindi क्या है? हमने आपको GST फुल फॉर्म क्या है? GST के प्रकार क्या है? GST के फायदे क्या है? टैक्स फ्री वस्तुएं क्या है? इसके बारे में जानकरी दी है। उम्मीद है की आपको इस आर्टिकल में सारी जानकारी मिल गई होगी।

ये भी पढ़े –

GST सम्बंधित FAQ

भारत में GST कब लागू हुआ?

भारत में GST 1 जुलाई, 2017 को लागू हुआ।

GST कितने प्रकार का होता हैं।

GST तीन प्रकार का होता है राज्य जीएसटी, केंद्रीय जीएसटी, इंटीग्रेटेड जीएसटी।

GST का पूरा नाम क्या है?

GST का पूरा नाम Good And Service Tax है ,जिसे वस्तु सेवा कर कहा जाता है।