MBA का फुल फॉर्म क्या है? एमबीए की पूरी जानकारी हिंदी में    

MBA Full Form in Hindi

MBA Full Form in Hindi : भारत में ज्यादातर स्टूडेंट अपना खुद का बिजनेस करने के बारे में सोचते है इसके लिए स्टूडेंट अपना ग्रेजुएशन कम्पलीट करने के बाद एमबीए करते है ताकि वो अपने बिजनेस को आगे बड़ा सके या अपना करियर को मैनेजमेंट के क्षेत्र में बना सके। अगर आप भी एमबीए का कोर्स करना चाहते है तो आपको 12वी क्लास के बाद B Com, BBA में अपना ग्रेजुएशन कम्पलीट करना पड़ेगा इसके बाद आप एमबीए का कोर्स कर सकते है। आप में से बहुत से लोगों ने एमबीए का कोर्स किया भी होगा लेकिन उनमे से बहुत से लोगों को एमबीए का फुल फॉर्म क्या होता है इसके बारे में जानकारी नहीं होगी। आज हम आपको एमबीए के बारे में सारी जानकारी देंगे जैसे एमबीए क्या है? एमबीए का फुल फॉर्म क्या है? एमबीए के लिए योग्यता? एमबीए के प्रकार? एमबीए की फीस? आदि। आइये जानते है MBA Full Form in Hindi के बारे में?    

MBA Full Form in Hindi

MBA का फुल  फॉर्म “Master Of Business Administration” होता है। इसे हिंदी में “व्यवसाय प्रबंध में स्नातकोत्तर” कहा जाता है।

  • M- Master
  • B- Business
  • A- Administration

एमबीए क्या है? (What is MBA in Hindi)

MBA एक पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स है। MBA दो साल का कोर्स होता है इसमें आपको 4 सेमेस्टर की एग्जाम देनी होती है। आप BA, BCA, B.Com और BSC करने के बाद MBA का कोर्स कर सकते है। MBA का कोर्स आप कई क्षेत्रों में कर सकते हैं जैसे फाइनेंस, मार्केटिंग, बैंकिंग आदि। आपको बता दे आप MBA का कोर्स 12वीं क्लास के बाद भी कर सकते हैं। लेकिन अगर आप 12वीं के बाद MBA का कोर्स करते हैं तो आपका MBA का कोर्स 5 साल में पूरा होगा। अगर आपको MBA की पढ़ाई के लिए भारत के टॉप एमबीए कॉलेज में एडमिशन लेना है तो आपको Cat, Mat, Cmat जैसी एंट्रेंस एग्जाम पास करनी होगी तभी आपका एक अच्छे कॉलेज में एडमिशन हो सकता है।

एमबीए के लिए योग्यता? (eligibility criteria for mba)

  • MBA में एडमिशन के लिए 50% अंक के साथ ग्रेजुएशन होना जरूरी है।
  • IIM कॉलेज में एडमिशन के लिए 60% अंक के साथ ग्रेजुएशन होना जरूरी है।
  • SC, ST, OBC स्टूडेंट को 5 प्रतिशत अंक की छूट मिलेगी।     
  • छात्र की उम्र 25 से 28 के बीच होनी चाहिए।

एमबीए के प्रकार? (Types of MBA)

  • Part Time MBA
  • Full-Time Executive MBA
  • Evening (Second Shift) MBA
  • Modular MBA Program
  • MBA Dual Degree Program
  • Mini MBA
  • Two Year Full Time MBA Program
  • Distance Learning MBA Program

एमबीए के सब्जेक्ट्स (mba subjects)

  • Finance
  • Banking
  • Marketing Management
  • Human Resource
  • Supply Chain Management
  • Health Care Management
  • Information Technology – IT

एमबीए एंट्रेंस एग्जाम? (mba entrance exam)

  • CAT – Common Admission Test
  • IIFT – Indian Institute of Foreign Trade
  • MAT – Management Aptitude Test
  • XAT – Xavier Aptitude Test
  • GMAT – Graduate Management Admission Test
  • CMAT – Common Management Admission Test
  • SNAP – Symbiosis National Aptitude Online Test
  • KIITEE – Kalinga Institute of Industrial Technology Entrance Exam
  • MBS – Mumbai Business School Entrance Exam
  • APIME – Asia Specific Institute of Management Exam

भारत के बेस्ट एमबीए कॉलेज? (mba top colleges in india)

  • IIM (Indian Institute of Management), Ahmedabad
  • SPJIMR , Mumbai
  • IIM (Indian Institute of Management), Bangalore
  • MDI (Management Development Institute), Gurgaon
  • Indian Institute of Management, Calcutta
  • IIM (Indian Institute of Management), Indore
  • XLRI, Jamshedpur
  • IIFT (Indian Institute of Foreign Trade), Delhi

एमबीए की फीस? (mba course fees)

एमबीए की फीस गवर्नमेंट कॉलेज और प्राइवेट  कॉलेज दोनों में अलग-अलग होती है। अगर आप एमबीए की एंट्रेंस एग्जाम पास कर लेते है तो आपको गवर्नमेंट  कॉलेज  मिल सकता है और गवर्नमेंट कॉलेज की फीस बहुत कम होती है। अगर आप किसी प्राइवेट कॉलेज  से एमबीए करते है तो आपकी फीस 10 से 15 लाख रूपए तक लग सकती है।

एमबीए के बाद नौकरी (Job after MBA)

  • Financial Manager                                 
  • Marketing Manager
  • Systems Manager
  • Information Technology Director
  • Health Services Manager
  • Business Operations Manager

MBA करने के बाद सैलरी (mba salary)

MBA का कोर्स करने के बाद आपकी शुरूआती सैलरी 25 हजार से लेकर 50 हजार महीने तक हो सकती है। लेकिन अगर आपको इस फील्ड में अच्छा नॉलेज है तो आपकी सैलरी 1 लाख रूपए से लेकर 5 लाख रूपए महीने तक हो सकती है।

MBA करने के फायदे (Benefits of MBA)

  • MBA करने के बाद आपको बड़ी कंपनी में आसानी से जॉब मिल सकती है।
  • एमबीए करने के बाद आप अपने बिजनेस को अच्छे से ग्रो कर सकते है।
  • MBA करने के बाद आप किसी भी कॉलेज में पढ़ा सकते है।
  • एमबीए करने के बाद आप अपना बिजनेस शुरू कर सकते है।

हमें आशा है आपको इस आर्टिकल में MBA Full Form in Hindi के बारे में सारी जानकारी मिल गई होगी। अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इसे अपने सोशल मीडिया जरूर शेयर करे।

एमबीए से सम्बंधित FAQ

MBA का फुल फॉर्म क्या होता है?

MBA का फुल फॉर्म Master Of Business Administration होता है।

एमबीए की फीस कितनी होती है?

आप एक अच्छे कॉलेज से एमबीए करते है तो आपकी फीस 10 से 15 लाख रूपए तक हो सकती है।

ये भी पढ़े –

Previous articlePUBG Game का मालिक कौन है ये किस देश का गेम है
Next articleB.ED का फुल फॉर्म क्या है? योग्यता, एग्जाम, सैलरी
My name is Aditi Jain. I am a content writer and love to spend time on the internet. I write content in the Hindi language, I like to write content on the General Knowledge.