Web Designing क्या है? पूरी जानकारी हिंदी में

आईये जानते है Web Designing Kya Hai? अगर आप अपने करियर को लेकर चिंतित है। तो Web Designing एक ऐसा कोर्स है। जिसमे आप अपना carrier बना सकते है। इसके लिए आपके पास सही जानकारी और निर्देश की जरूरत है। आपको बता दे की Web Designing का कोर्स करने में ज्यादा समय नहीं लगता है। इस कोर्स को सीखने के लिए आप में Creative Skills और Technical Abilities होनी चाहिए।

आज हम आपको Web Designing क्या (web designing kya hota h) है? Web Designing कैसे सीखें? Web Designing Course के लिए योग्यता? Web Designing Course करने के बाद Job Opportunity क्या है? Web designing course की Fess? Web designing के प्रकार क्या है? Web Designing के फायदे क्या है? इसकी जानकारी देने है रहे है। आईये जानते है Web Designing Kya Hai?

Web Designing Kya Hai (what is web designing)

किसी भी Website को बनाने की Process को Web Designing कहा जाता है। इसके अंतर्गत Web Page, Layout, Content Production और Graphic Design जैसी बहुत सी चीजे आती है। Website को बनाने के लिए बहुत से Software Tool और Language का यूज़ किया जाता है। इसे Web Development प्रोसेस कहा जा सकता है। इसके अंतर्गत Website को इस तरह से तैयार किया जाता है की Website को Attractive और उपयोग करने में आसान बनाने के लिए User Interface और अन्य Visual Imagery जैसे कई Factors पर ध्यान दिया जाता है।

Web Designing कैसे सीखें (How to learn Web Designing)

Web Designing आप Online और Offline तरीके से सिख सकते है। हम आपको इन दो तरीके की जानकारी देने जा रहे है। आप दोनों तरीके नीचे देख सकते है।

1. Online Web Designing

Web Designing आप Online तरीके से सिख सकते है। इसके लिए आप Youtube में vedio search करके सिख सकते है। Online Tutorial, free E – Book आदि के द्वारा भी Web Designing का Course सिख सकते है। अगर आप free में Web डिजाईन Course करते है तो आपको बहुत सी problam face करना पड़ती है जैसे Web डिजाईन से रिलेटेड बहुत सी चीजे आपको search करना पड़ेगी जिससे आपका समय भी ख़राब होगा। Online में भी Paid Service है जिनके द्वारा भी आप Web Designing का Course कर सकते है। हम आपको कुछ Paid Website के नाम बताने जा रहे है जो इस प्रकार है।

  • Tutorialspoint
  • W3school
  • Udemy
  • Codecademy

2. Offline Web Designing

Offline तरीके से आप कम समय में Web Designing का Course कर सकते है जैसे कोई भी अच्छा Institute ज्वाइन करके Web Designing सिख सकते है या Web Designing का Diploma भी कर सकते है। Certificate Course के माध्यम से भी आप Web Designing का Course कर सकते है। Certificate Course के द्वारा आपको आसानी job मिल जाती है। इसलिए ज्यादातर लोग Certificate Course के माध्यम से ही Web Designing का Course करना पसंद करते है। Offline में आप 6 से 12 महीने की अवधि में Web Designing का Course पूरा कर सकते है।

Web Designing कोर्स के लिए योग्यता (Web Designing Qualification)

Web Designing एक ऐसा Course है। जिसके लिए कोई विशेष Degree की जरूरत नहीं होती है। आप इस Course को 12th के बाद या Graduation के बाद भी कर करते है या जब आपका मन करे इस कोर्स को करने के लिए कोई उम्र सीमा नहीं है। हम आपको Web Designing Course को करने को योग्यता बताने जा रहे आप इन सभी योग्यता और स्किल को नीचे देख सकते है।

  • Computer की जानकारी
  • 12th के बाद
  • Job के लिए Graduation
  • English skills
  • Communication skills
  • Creative skills

Web Designing Course करने के बाद Job Opportunity

अगर आप Web Designing का Course कोई अच्छे Institute से करते है तो आपको job Opportunity भी अच्छी मिल जाती है। हम आपको job Opportunity के बारे में बताने जा रहे है जो इस प्रकार है।

  • Web developer
  • Web designer
  • Games developer
  • Seo specialist
  • Applications developer
  • Web content manager
  • Multimedia programmer
  • Ux designer
  • Multimedia specialist
  • Ux analyst
  • Software Development Companies
  • Web Marketing Firms
  • Programmer
  • Educational Institutes
  • Professional Websites
  • Web Domain & Hosting Service Providers

web designing course fees

अगर हम web designing course in hindi की फीस की बात करे तो इस कोर्स की फीस कोई Fixed नहीं है। हमारे भारत में बहुत से बड़े-बड़े College और Institute है जो Web Designing का Course (web designing course free) करवाते है। और इनकी फीस Training के आधार पर निर्धारित की जाती है। मगर एक अनुमान लगाया जाए तो Web Designing की कम से कम फीस 35000 से 50000 के आस पास होती है और अधिक से अधिक फीस 100000 से 300000 तक होती है ये फीस Institute के अनुसार तय की जाती है।

Web designing के प्रकार (Types of Web Designing)

अब हम आपको Web Designing के प्रकार बताने जा रहे। Web Designing मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है। इन दोनों प्रकारो को आप नीचे देख सकते है।

1. Front End Designing

जब भी कोई यूज़र किसी भी Website को Open करता है और जो Design उसके सामने आती है। उसे Front – End Designing कहा जाता है। किसी भी Website के Front – End Designing को इस तरह से Design किया जाता है की यूज़र्स को Website Access करने में कोई भी दिक्कत या Problem ना आए। ताकि यूज़र्स आसानी से Website को Access कर सकें। आपको बता दे की Front – End Designing करते समय Website का Interface Attractive दिखाई दे, Content में जो Font यूज़ किये जाते है वो भी अच्छे होना चाहिए, website का Navigation भी सही होना चाहिए, Color Combination भी सही होना चाहिए। सरल शब्दों में कहे तो Front – End Designing, web Designing का वो Part है जो की यूज़र्स के लिए बनाया जाता है। जिससे की यूज़र्स Website को अच्छे से खंगाल सके और यूज़र्स को कोई परेशानी ना आए।

2. Back End Designing

Web Designing में Back –End Designing भी महत्वपूर्ण भाग होता है। ये Part यूज़र्स को दिखाई नहीं देता है। इस Part में Web Developer कई चीजों Hide कर देता है। जिसे यूज़र देख ना पाए उदहारण के तौर पर Back End Designing के लिए PHP सबसे सरल भाषा है (web designing examples) जैसे WordPress, Facebook आदि PHP में बनी होती हैं। इसके साथ ही आप SQL Detaabes Language SQL का यूज़ कर सकते है।

Web Designing के फायदे

  • Web Designing से आप घर बैठे Online पैसे कमा सकते है।
  • अपनी Creativity को लोगो के सामने दिखा सकते हो।
  • Web Designing से आप को अच्छी नौकरी मिल सकती है।
  • अपनी Creativity को लोगो के सामने दिखा सकते हो।
  • Web Designing के द्वारा आपको ग्लोबल मार्किट की जानकारी रहती है।

तो अब आप जान गए होंगे Web Designing Kya Hai? हमने आपको आपको Web Designing क्या (web designing kya hota hai) है? Web Designing कैसे सीखें? Web Designing कोर्स के लिए योग्यता? Web Designing Course करने के बाद job Opportunity क्या है? Web designing course की Fess? Web designing के प्रकार क्या है? Web Designing के फायदे क्या है? उम्मीद है आपको इसकी सभी जानकारी मिल गई होगी। अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इस आर्टिकल को अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर करे।

ये भी पढ़े-

My name is Ashish Shriwas. I am an engineer. I work in an IT company. I write on topics like technology, mobile, app.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here