जानिए भारत की राष्ट्रभाषा क्या है?

आज आप इस आर्टिकल में जानेंगे कि Bharat Ki Rashtrabhasha Kya Hai? दुनिआ में जितने भी देश है लगभग सभी देशों में अलग-अलग भाषा बोली जाती है जैसे  इंग्लिश फ्रेंच अरबिक आदि। लेकिन अगर इंटरनेशनल भाषा की बात की जाए तो इंग्लिश इंटरनेशनल लैंग्वेज है। वैसे ही हमारे भारत देश में भी सभी राज्यों में अलग- अलग भाषा बोली जाती है जैसे हिंदी मराठी, बंगाली, तमिल, कन्नड़, भोजपुरी, बिहारी, राजस्थानी, गुजरती, पंजाबी आदि। आपको बता दे सभी देश की एक राष्ट्रभाषा होती है। इस भाषा में ही उस देश के सारे ऑफिसियल काम किए जाते है।

जैसे हमारे भारत देश में ज्यादातर काम हिंदी भाषा में किए जाते है। हमारे देश में बहुत से लोग हिंदी भाषा को की राष्ट्रभाषा मानते है।  लेकिन हम आपको बता दे हिंदी भाषा भारत देश की राष्ट्रभाषा नहीं है। तो फिर सवाल आता है की भारत देश की राष्ट्रभाषा कौनसी है। आज हम आपको इस आर्टिकल में भारत की राष्ट्रभाषा कौनसी है इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे जिससे आपको पता चल जायेगा की भारत की राष्ट्रभाषा कौनसी है। आइए जानते हैं कि कि Bharat Ki Rashtrabhasha Kya Hai?

Bharat Ki Rashtrabhasha Kya Hai

आपको बता दे भारत देश की कोई भी राष्ट्रभाषा नहीं है। लेकिन भारत के संविधान में हिंदी भाषा को राजभाषा का दर्जा दिया गया है। बता दे अनुच्छेद 343 के अनुसार  हिंदी भाषा को राजभाषा का दर्जा मिला हुआ है। अनुच्छेद 343 के अनुसार भारत में जितने भी राज्य है उनमें राजकीय कार्यों में हिंदी भाषा का प्रयोग किया जा सकता है। वैसे देखा जाए तो भारत सरकार ने देश में बोली जाने वाली 22 भाषाओं को सरकारी कामकाज के लिए मान्यता दी है। केंद्र सरकार या राज्य सरकार अपने कार्यों के लिए इन 22 भाषाओं में से किसी भी एक भाषा में अपना काम कर सकती है जैसे केंद्र सरकार ने अपने कामकाज के लिए हिंदी और इंग्लिश भाषा को चुना है।

संविधान के आंठवी अनुसूची में शामिल 22 भाषाएँ

जब भारत के संविधान का निर्माण हुआ था तब केवल 14 भाषा को ही किया गया था लेकिन समय के अनुसार इसमें और भी भाषाओं को शामिल किया गया है। आप सभी भाषाओं के बारे में नीचे देख सकते है।

हिन्दी भाषा
तमिल भाषा
गुजराती भाषा
कश्मीरी भाषा
असमिया भाषा
डोगरी भाषा
उर्दू भाषा
ओड़िआ भाषा
मणिपुरी भाषा
संस्कृत भाषा
सिन्धी भाषा
मलयालम भाषा
कोंकणी भाषा
कन्नड़ भाषा
नेपाली भाषा
बोड़ो भाषा
पंजाबी भाषा
संथाली भाषा
बंगाली भाषा
मैथिली भाषा
मराठी भाषा
तेलुगू भाषा

तो अब आप जान गए होंगे कि Bharat Ki Rashtrabhasha Kya Hai? भारत एक ऐसा देश है जो अपनी विभिन्नताओं के लिए जाना जाता है, यहां हर राज्य की अपनी राजनैतिक, सांस्कृतिक और ऐतिहासिक पहचान है लेकिन उसके बाद भी देश में की कोई एक राष्ट्रभाषा नहीं है।

ये भी पढ़े –